हेल्थी निबल्स

मैकाडामिया

मैकाडामिया

क्या आप जानते हैं?
मैकाडामिया का पेड़ Proteaceae जाति का एक सदस्य होता है और यह पूर्वी ऑस्ट्रेलिया के उपोष्णकटिबंधीय, तटीय वर्षा वनों में पैदा होता है। ऑस्ट्रेलियाई मैकाडामिया सोसायटी के अनुसार, आदिवासी लोगों ने मैकाडामिया को अनेक नाम दिए थे: किन्दल किन्दल, बूमेरा, जिन्दिल या बौपल। 1850 के दशक में, इन पेड़ों पर अंग्रेज़ वनस्पतिशास्त्री, फर्डिनेंड वोन म्युलर, और ब्रिसबेन, ऑस्ट्रेलिया के वनस्पति उद्यान निदेशक, वाल्टर हिल की नज़र पड़ी थी। मैकाडामिया जाति का नाम उस समय के प्रख्यात वैज्ञानिक डॉ. जॉन मैकएडम के नाम पर पड़ा था।
ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और केन्या मैकाडामिया नट्स के सबसे बड़े उत्पादक हैं, जहाँ दुनिया का लगभग 75% उत्पादन किया जाता है। इनके बाद, यूएसए, ग्वाटेमाला, चीन, ब्राज़ील, मलावी, कोलंबिया, न्यूज़ीलैंड और स्वाजीलैंड आते हैं।
मैकाडामिया नट्स उनके हल्के, कोमल स्वाद, मखमली कुरकुरी बनावट और अपने तेल के लिए मशहूर हैं, जो मोनोसेचुरेटेड फैट में भरपूर है। अपनी बहुमुखी प्रतिभा के कारण, मैकाडामिया का प्रयोग स्नैक्स के रूप में या बेकिंग और कन्फेक्शनरी में एक सामग्री के रूप में किया जाता है। इसके अलावा, मैकाडामिया तेल का प्रयोग खाना बनाने और अनेक सौंदर्य प्रसाधनों में किया जाता है।
लाभ
पोषक तत्व
मैकाडामिया में पोषक तत्वों का एक दिलचस्प मेल होता है क्योंकि फाइबर, मैग्नीशियम, तांबा, मैंगनीज। और थियामिन अधिक होता है, और ये विटामिन बी6, नियासिन और लौह, फोस्फोरस, पोटेशियम और सेलेनियम जैसे खनिजों के स्रोत होते हैं।1
ह्रदय स्वास्थ्य
वर्ष 2008 के अध्ययन में गौर किया गया कि नट्स की अनूठी फैटी एसिड प्रोफाइल कोलेस्ट्रोल स्तरों को फायदा पहुंचा सकती है और फलस्वरूप, संभवतः ह्रदय रोग (सीवीडी) का खतरा कम हो सकता है। मैकाडामिया नट्स को ह्रदय के लिए गुणकारी आहार पैटर्न में शामिल करने से सीवीडी संबंधी जोखिम कारकों में कमी लाने में सहायता मिल सकती है।3
मोनोसेचुरेटेड फैट्स
सभी नट्स में से, मैकाडामिया में सबसे अधिक मात्रा में मोनोसेचुरेटेड फैट्स (59.27 ग्रा/100 ग्रा) होते हैं।
ओमेगा 7
मैकाडामिया ओमेगा-7 फैटी एसिड्स के प्राकृतिक स्रोत होते हैं, जिन्हें पामीटोलेइक एसिड के नाम से भी जाना जाता है। ऐसा उनके मोनोसेचुरेटेड फैट्स (ओलेइक और पामीटोलेइक एसिड) का स्रोत होने की बदौलत है। वर्ष 2007 के अध्ययन के अनुसार, मैकाडामिया ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस, थ्रोम्बोसिस और सूजन के बायोमार्करों को अनुकूल रूप से बदलने में सहायक हो सकता है, जो कोरोनरी धमनी के रोग के लिए जोखिम कारक होते हैं।4
मज़ेदार तथ्य
ऑस्ट्रेलिया में, मैकाडामिया नट्स को एक स्वादिष्ट भोजन माना जाता था। उनका प्रयोग कबीलों के बीच व्यापार और कोरोबोरीस नामक कबीलों की बैठकों में आपस में विशेष औपचारिक उपहार के रूप में किया जाता था।
मैकाडामिया
मैकाडामिया नट्स का खोल शेष पेड़ के खोल की तुलना में बहुत कठोर होता है जो कर्नेल को बढ़िया सुरक्षा प्रदान करता है।
संदर्भ:

1)    USDA Food Composition Databases. National Nutrient Database for Standard Reference Release 28 slightly revised May, 2016: https://ndb.nal.usda.gov/ndb/search/list.
2)    Regulation (EC) No 1924/2006 of the European Parliament and of the Council of 20 December 2006 on nutrition and health claims made on foods: http://eur-lex.europa.eu/legal-content/EN/TXT/HTML/?uri=CELEX:32006R1924&from=en.
3)    Griel, A. E., Cao, Y., Bagshaw, D. D., Cifelli, A. M., Holub, B., & Kris-Etherton, P. M. (2008). A macadamia nut-rich diet reduces total and LDL-cholesterol in mildly hypercholesterolemic men and women. The Journal of nutrition, 138(4), 761-767.
4)    Garg, M. L., Blake, R. J., Wills, R. B., & Clayton, E. H. (2007). Macadamia nut consumption modulates favourably risk factors for coronary artery disease in hypercholesterolemic subjects. Lipids, 42(6), 583-587.